दो माह बाद फिर बढ़े रसोई गैस के दाम, गृहणियां हो रही परेशान

कोरबा। गृहणियों को दो महीने राहत देने के बाद केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय ने इस महीने रसोई व कमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम में बढ़ोतरी कर दी है। रसोई गैस की कीमत में प्रति सिलेंडर 43 रुपये 50 पैसे व कमर्शियल सिलेंडर में 69 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है।
बीते सात महीने से महंगाई की मार झेल रही गृहणियों के लिए जनवरी और फरवरी का महीने राहत भरा रहा। सात महीने से लगातार बढ़ी कीमतों के बाद एलपीजी निर्माता कंपनियों ने जनवरी व फरवरी महीने में घरेलू व व्यावसायिक गैस सिलेंडर की कीमतों में कमी की थी। तब मध्यमवर्गीय परिवार ने राहत की सांस ली थी। गैस निर्माता कंपनियों ने एक बार फिर कारटेल बनाते हुए गैस के दाम को बढ़ा दिया है। मार्च महीने के लिए कीमत तय करते हुए घरेलू गैस की कीमत प्रति सिलेंडर 790 रुपये कर दिया है। बीते महीने सब्सीडी वाले गैस सिलेंडर की कीमत 746.50 रुपये तय किया गया था।

इसी तरह कमर्शियल सिलेंडर के दाम में 69 रुपये की बढ़ोतरी कर दिया है। इस महीने कमर्शियल सिलेंडर 1405 रुपये में बिकेगा । बीते महीने इसकी कीमत 1336 रुपये तय की गई थी । मई से लेकर दिसंबर 2018 तक घरेलू व व्यावसायिक गैस की कीमतों में महंगाई की आग लगी हुई थी। नवंबर में तो घरेलू गैस सिलेंडर ने सारी हदें पार कर दिया था। तब एलपीजी निर्माता कंपनियों ने एक हजार 34 रुपये गैस की कीमत तय की थी। उपभोक्ताओं के सामने मजबूरी थी । लिहाजा बढ़े कीमत पर भी लोगों ने सिलेंडर खरीदा । गैस की कीमतों को लेकर बढ़ते असंतोष को कम करने की गरज से केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्रालय ने इस पर प्रभावीतौर पर नियंत्रण लगाया व कीमतें कम की थी। नियंत्रण का ही परिणाम रहा कि जनवरी व फरवरी महीने में गृहणियों को राहत मिली ।
जनवरी में 779 रुपये व फरवरी में 746 रुपये 50 पैसे की दर पर सिलेंडर की बिक्री एजेंसी संचालकों ने की थी । परंतु एक बार फिर अब रसोई गैस में महंगाई की आग लग गई है। चुनावी साल में गैस की बढ़ती कीमतें सत्तारूढ़ दल को नुकसान न पहुंचा दे। इसकी भी संभावना बनी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *