युवक कांग्रेस में नई नियुक्तियों को लेकर संगठन में उभरने लगा असंतोष, कई पदाधिकारियों ने जताई नाराजगी

रायपुर- युवक कांग्रेस में हाल में की गई नियुक्तियों को लेकर संगठन में जमकर असंतोष दिखने लगा है.युवक कांग्रेस के कुछ पदाधिकारियों ने नई नियुक्तियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए सोशल मीडिया में संगठन के खिलाफ आग उगलना शुरु कर दिया है, तो वहीं कुछ पदाधिकारियों ने दबी जुबान में इसकी आलोचना की है.रायपुर युवक कांग्रेस के महासचिव अभिषेक कसार ने फेसबुक पर इन नियुक्तियों के खिलाफ जमकर नाराजगी जाहिर की है.अभिषेक ने लिखा है कि जिन लोगों ने कभी युवक कांग्रेस का झंडा नहीं उठाया,उनकी नियुक्ति का मैं खुलकर विरोध करता हूं. उन्होंने अपने एफबी वाल में एक के बाद एक पोस्ट कर नई नियुक्तियों के खिलाफ आवाज उठाई है.

दरअसल हाल ही में युवक कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष पूर्णचंद पाढ़ो और महेन्द्र गंगोत्री के लेटर हैड पर 60 से ज्यादा नये पदाधिकारियों की नियुक्ति की सूचना जारी की गई थी. नियुक्ति आदेश जारी होने के बाद से ही युवक कांग्रेस के कई पदाधिकारियों ने विरोध करना शुरु कर दिया.बताया जा रहा है कि इन नियुक्तियों के विरोध में आने वाले दिनों में कई जिलों के युवक कांग्रेस अध्यक्ष और दूसरे पदाधिकारी अपने पद से इस्तीफा देने का मन बना रहें हैं.इन पदाधिकारियों का कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जब तय कर रखा है कि पदाधिकारियों का चयन चुनाव के जरिये होगा,तब फिर मनोनयन करने का औचित्य क्या है. युवक कांग्रेस के कुछ पदाधिकारियों का ये भी आरोप है कि जोगी कांग्रेस से हाल ही में कांग्रेस में शामिल होने वालों को भी चापलूसी के आधार पर महत्वपूर्ण पदों पर बिठाने का आदेश जारी किया गया है, जो कि गलत है. नियुक्तियों का विरोध करने वाले युवक कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि इस तरह की नियुक्ति से ऐसे कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटता है,जो लगातार सक्रिय रहते हुए मेहनत करते हैं और ऐसे सक्रिय कार्यकर्ताओं की हताशा का परिणाम आगामी लोकसभा चुनाव में सामने आ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *