अनशन का 11वां दिन: हार्दिक पटेल का वजन 20 किलो घटा, बीजेपी बोली- ये कांग्रेस प्रेरित है

अहमदाबाद| पाटीदारों के लिए आरक्षण की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठे हार्दिक पटेल का वजन 20 किलो कम हो गया है. डॉक्टरों ने उन्हें इलाज की सलाह दी है. डॉक्टरों ने आशंका जताई है कि अगर हार्दिक पटेल अस्पताल में भर्ती नहीं हुए तो शरीर के कुछ अंग डेमेज होने की भी आशंका है.
वहीं हार्दिक पलेट के अनशन को बीजेपी ने कांग्रेस प्रेरित बताया है. उर्जा मंत्री सौरभ पटेल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, ”हार्दिक पटेल को डॉक्टरों की सलाह लेनी चाहिए, उन्हें डॉक्टरों की जांच में सहयोग करना चाहिए. हार्दिक पटेल का अनशन कांग्रेस प्रेरित है, जो कोई हार्दिक पटेल को मिल रहा है वो कांग्रेस के लोग हैं. कोर्ट ने कहा है कि 50% से ज्यादा आरक्षण नहीं दिया जा सकता.” सौरभ पटेल ने कहा, ”सरकार किसानों को सभी प्रकार की मदद देने को तैयार है. सरकार ने अभी तक किसानों के लिए सभी प्रकार के प्रयास किया है. गुजरात सरकार ने किसानों को 700 करोड़ का लोन दिया है.”

हार्दिक पटेल को मिल रहा विपक्षी दलों का समर्थन
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने राज्य सरकार से अनुरोध किया है कि वह गतिरोध को खत्म करने के लिये हार्दिक पटेल से बातचीत करे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को किसानों की कर्ज माफी को लेकर पटेल को अपना समर्थन दिया. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 25 वर्षीय पाटीदार नेता से अपना उपवास समाप्त करने की अपील की है. हार्दिक पटेल नीत पाटीदार अनामत आंदोलन समिति ने घोषणा की है कि पाटीदारों के दो मुख्य धार्मिक संगठनों–उमिया माता संगठन और खोडलधाम ने भी पटेल को अपना समर्थन दिया है. पिछले नौ दिनों में कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा समेत विभिन्न दलों के नेताओं और प्रतिनिधियों ने पटेल से उनके आवास पर मुलाकात की है और उन्हें अपना समर्थन देने की घोषणा की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *